पेशेंट की हालत नाजुक है तो समय पर करें मेडिकल रेफर, संक्रमित, बुजुर्गों के इलाज में न हो लापरवाही

डिजिटल डेस्क जबलपुर ।  गंभीर रोगों से ग्रसित तथा कोरोना के लक्षण वाले बीमार और वृद्ध लोगों के इलाज में किसी भी तरह की लापरवाही न हो। अस्पतालों में भर्ती कोरोना के गंभीर मरीजों को भी समय पर मेडिकल रेफर किया जाये। कलेक्टर भरत यादव ने निजी अस्पताल संचालकों की बैठक में यह बात कही। उन्होंने कहा कि कोरोना के लक्षण वाले बीमार और वृद्ध लोगों का समय पर उपचार कराने लोगों को जागरूक करने के प्रशासन के प्रयासों में अस्पताल संचालक सहभागी बनें।  उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों से जबलपुर में कोरोना मरीजों की हुई मृत्यु की जो वजह सामने आई है वह समय पर अस्पताल जाकर उपचार नहीं कराना है। कलेक्टर ने निजी अस्पताल संचालकों से कोरोना मरीजों के इलाज के लिए तय किये गये पैकेज को भी कम से कम रखने कहा है, ताकि मरीजों पर ज्यादा आर्थिक बोझ न पड़े। उन्होंने बताया कि निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों के उपचार की दरें तय करने राज्य शासन स्तर पर भी विचार किया जा रहा है। जिन अस्पतालों को परमीशन मिल गई है वे कोरोना मरीजों का उपचार शीघ्र प्रारंभ करें,  यदि और भी निजी अस्पताल कोरोना मरीजों को अपने यहाँ भर्ती कर उपचार करना चाहते हैं तो उन्हें भी शीघ्र अनुमति प्रदान की जायेगी। बैठक में निजी नर्सिंग होम एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. जितेन्द्र जामदार, डॉ. राजेश धीरावाणी आदि मौजूद थे। 
 



.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.
.
...
If the condition of the patient is critical, then refer the medical referrer on time
.
.
.


from दैनिक भास्कर हिंदी https://ift.tt/30WQCUB
via IFTTT

No comments