ये गाँव होगा ईशा अंबानी का ससुराल जहाँ आज भी बनी है पुश्तैनी हवेली

आपको तो पता है कि भारत के सबसे अमीर और रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी की शादी पीरामल ग्रुप के कार्यकारी अध्यक्ष आनंद पीरामल के साथ तय हुयी है और लगभग इस साल के अंत तक ये दोनों अपने वैवाहिक बंधन में बंध भी जायंगे. पर आपको क्या यह जानकारी है कि मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी के ससुराल वालों का पुश्तैनी घर कहाँ है ? तो चलिए आज हम आपको इस बारे में बताते है.
आनंद पीरामल मूल रूप से राजस्थान के झुंझनु के बगड़ कस्बे के रहने वाले है. तो जाहिर सी बात है कि ईशा अंबानी भी अब इस कस्बे की ही बहू बनेगी. ये बात अलग है कि आनंद पीरामल का पूरे भारत में बिज़नस फैला हुआ है पर यह भी तय है कि ईशा शादी के बाद यहाँ जरुर जायेंगी, क्योकि यह गाँव पीरामल परिवार का पैतृक गाँव है.

राजस्थान के बगड़ कस्बे में आज भी पीरामल ग्रुप की पुस्तैनी हवेली है. यहाँ की हवेलियाँ पूरे भारत में मशहुर है. पर पीरामल हवेली की बात ही कुछ अलग है. बताया जाता है कि अब इस हवेली को होटल के रूप में इस्तेमाल किया जाता है जिसमे पर्यटक आकर रुकते है. आपको जानकारी के लिए बता दे कि अंबानी और पीरामल परिवार के दोस्ती लगभग पिछले चार दशको से है जो कि अब ये दोनों ग्रुप के मालिक मिलकर दोस्ती को रिश्तेदारी में बदलने जा रहे है. लगभग 67 हजार करोड़ से ज्यादा के पीरामल ग्रुप के बिज़नस की शुरुआत साल 1920 में हुयी थी. जब अजय पीरामल के दादा सेठ पीरामल चतुर्भुज मखारिया 50 रुपए लेकर राजस्थान के बगड़ कस्बे से मुंबई पहुचे थे.

No comments