अगर रात को सोते समय सुनाई देने लगे ये 3 आवाज़, तो बिल्कुल न खोले अपनी आँखें, नहीं तो.

कहा जाता है कि हमारे आस-पास रहने वाले जानवर हमें कई बार संकेत देते हैं वह संकेत या तो हमारी खुशियों का होता है या फिर हमारी दुखों का मतलब की वह अपनी आवाज़ निकालकर हमें आने वाले खतरे के बारे में संकेत देते हैं और हमें सतर्क करते हैं यह बिलकुल सच है लेकिन एक समस्या यह है कि हम सभी में से कई लोग तो इन पर भरोसा ही नहीं करते हैं और जो लोग भरोसा करते हैं उन्हें इस विषय में अधिक जानकारी नहीं होती है.

आज के इस पोस्ट में हम आपको ३ ऐसे जानवरों के बारे में बताने वाले हैं जिनकी आवाज़ अगर आपको रात में सुनाई देता है तो इसका मतलब है कि वो आपको आने वाले खतरों के लिए सतर्क कर रहे हैं तो दोस्तों इस पोस्ट को पूरा जरुर पढ़ें और हाँ इस पोस्ट को गलत वे में बिलकुल न लें ये सिर्फ आपकी जानकारी और मनोरंजन के लिए है.
तो आइये जानते हैं उन ३ जानवरों के नाम -
1.कुत्ते का रोना - कहा जाता है कि कुत्ता सबसे वफादार जानवर है यहाँ तक कि ये भी कहा जाता है कि कुत्ता इन्सान से भी ज्यादा वफादार होता है ये इन्सान का दोस्त भी होता है कुत्ते की देखने और सूंघने की शक्ति बड़ी कमाल होती है और माना गया है कि कुत्ते बुरी शक्तियों और आत्माओं को देखने की शक्ति भी रखते हैं अगर ऐसे में आपको रात को किसी कुत्ते की रोने की आवाज़ सुनाई दे तो समझ लीजिये कि आपके मोहल्ले में या घर में किसी का अंतिम समय नजदीक आ गया है और उसकी मृत्यु होने वाली है.
2.बिल्ली का रोना - दोस्तों, रत में अगर आप अँधेरे में बिल्ली को देख लें तो पक्का डर ही जाएंगे क्योंकि अँधेरे में कुछ दिखाई दे या न दे बिल्ली की आँखें चमकती हुई मोती की तरह जरुर दिखाई देती है माना गया हो कि कुत्ते की तरह ही बिल्लियों का सूंघने और देखने की शक्ति बहुत तेज होती है ये बुरी शक्तियाँ जैसे - भुत-प्रेत, आत्मा, चुड़ैल आती को देख सकती है अगर वो रात में चिल्लाने लगे तो समझ लीजिये किसी का बुरा वक्त शुरू होने वाला है.
3.कौए का चिल्लाना - कौए तो आमतौर पर दिन भर इधर-उधर चिल्लाते फिरते हैं लेकिन रात में इनकी आवाज़ कभी-कभी ही सुनाई देती है अगर वह आधी रात में चिल्लाने लगे तो इसका मतलब है कि कुछ तो बुरा होने वाला है और किसी की मृत्यु भी हो सकती है इसके अलावा रात में कौए का चिल्लाना मतलब किसी के साथ अनहोनी होने वाली है.


No comments